अघोषित आय जमा करने पर लगेगा टैक्स के साथ 200 % जुर्माना

68
4045

केंद्र सरकार ने बुधवार को यह निर्णय लिया है कि 1000 और 500 के 2.5 lakh रुपये से ज्यादा के नोट जमा करने पर टैक्स लागू किया जाएगा। यदि आप इससे ज्यादा राशि जमा करवाते हैं और आपकी घोषित आय से यह राशि नही मिलती है तो आप को टैक्स के साथ साथ 200 पर्सेंट जुर्माना देना पड़ेगा। हसमुख अधिया  राजस्व सचिव ने कहा कि 10 November से 30 December तक बैंकों में जमा किए जाने वाली पूरी राशि की जानकारी हमारे पास होनी चहिये।
14939621_1774201989521315_655516052075596733_o
राजस्व सचिव का कहना है की ने  ‘कर विभाग जमा की जाने वाली राशि का मिलान संबंधित व्यक्ति की ओर से फाइल किए जाने वाले रिटर्न से करेगा। यदि यह राशि घोषित आय से अधिक पाई गयी तो जरूरी कार्रवाई की होगी।’ खाताधारक की ओर से जमा की गई राशि यदि घोषित आय से मेल नहीं हुई तो इसे टैक्स जमा करने में धोखाधड़ी के तौर पर देखा जाएगा। राजस्व सचिव ने कहा, ‘इसे टैक्स से बचने के तौर पर देखा जाएगा। ऐसी जमा की गयी राशि पर Income Tax ऐक्ट की धारा 270 (A) के तहत कर अलावा 200 % जुर्माना होगा।’

15032808_1774314156176765_3734258950177525036_n8 नवंबर की रात को पीएम मोदी जी की ओर से 1000 और 500 रुपये के नोटों को नकली करार दिए जाने के बाद सरकार ने इन्हें जमा कराने के लिए 10 November से 30 December तक का समय दिया है। केंद्र सरकार के इस फैसले को कालेधन और भ्रष्टातार के खिलाफ एस वर्ष में सबसे बड़ी कार्रवाई के तौर पर देखा गया है।

सरकार का कहना है की , लोगों को बिल्कुल भी चिंतित नहीं होना चाहिए। 1.5 या 2 lakh रुपये की राशि के नोट लौटाने पर किसी तरह की टैक्स जांच नहीं की जाएगी। ऐसी छोटी जमा राशियों वाले लोगों को tax department की ओर से किसी भी कार्रवाई के प्रति घबराना नहीं पड़ेगा।’ बड़े पैमाने पर कैश रखने वाले लोगों से सोना खरीदे जाने पर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा कि ऐसे लोगों को सोने की खरीद के दौरान पैन नंबर दिखाना होगा।

सरकार का कहना है की हमने फील्ड ऑफिसर्स को यह सुनिश्चित करने को कहा है कि वह यह देखें कि किसी भी जूलर्स के यहां नियमों का उल्लंघन न हो रहा हो। उन्होंने कहा, ‘हम ऐसे जूलर्स के खिलाफ कार्रवाई करेंगे, जो ग्राहक के पैन नंबर की जानकारी लिए बिना उन्हें सोना बेचेंगे।’

68 COMMENTS

Comments are closed.